Grid View
List View
Reposts
  • lovelyf 4w

    My papa

    कितनी फ़िक्र करते हैं वो मेरी,
    ना तो आज तक मैं ,इतनी खुद की कर पाया,
    ना उसकी जिसे दिल- ओ- जान से चाहता हूं।

  • lovelyf 5w

    मोहब्बत ने कहा मैं , आम हो जाऊंगी,
    गर तुम बदनाम ना हुए।

    हमने कहा,
    तुझे तेरे शौक मुबारक
    मुझे मेरी पुरानी दोस्तो की महफ़िल।
    ©lovelyf

  • lovelyf 5w

    Confidence

    Life is fearing me,
    My dreams are insulting me,
    My enemies are scaring me,
    My heart is not trusting me,
    My brain is not working for me,
    My goals are going far away,
    And the worst....
    My loving ones are not giving me attention.
    After all,
    I'm still smiling.
    That is my confidence
    ©lovelyf

  • lovelyf 7w

    Hurt

    If you hurt me,
    ...then you really hurt me.
    And I can't tolerate anymore.
    I will hurt you,
    .....punish you.
    ..... reject you.

    Even if you are my
    own heart.
    ©lovelyf

  • lovelyf 8w

    #one liner

    Read More

    जो लोग खुद में मस्त रहते हैं,
    वो किसी का इंतजार नहीं करते।
    ©lovelyf

  • lovelyf 9w

    Imagination

    I have power of imagination,
    So,
    I am infinite.
    ©lovelyf

  • lovelyf 9w

    Digital love

    If love is measured by
    Instant replies on WhatsApp,
    Daily romantic status,
    Late night long conversation,
    Selfie with fake smile,
    Party in expensive clubs,
    Long rides without any aim,
    Then I am not in love.
    My definition of love is different.
    I don't love in these stupid expectations.
    I love beyond the rules.

    My love is not digital, it is like a old written book.
    ©lovelyf

  • lovelyf 11w

    शायरी वही गजब की होती है, जो अजनबी सी होती है,
    अगर समझ में आ जाए तो, लोग मजाक बना दिया करते है।
    ©lovelyf

  • lovelyf 11w

    My character

    Sorry Yara,
    But if I will follow you
    Then who will play my character?
    ©lovelyf

  • lovelyf 11w

    लव

    अरे हद होती है हर एक बात की,
    तुम्हे कितनी बार बोला है, मुझे आजमाया ना करो,
    मै अपनी गलती मानकर, सुधार लेता हूं खुद को
    तुम मुझे यूं हर बात समझाया ना करो,
    और बंद करो मुझे बताना बार बार कि
    ये ग़लत है, ये सही है,
    तुम्हे कितनी बार कहा है लव है
    ये कोई खेल नहीं है कि मै हर जीत की फ़िक्र करू।
    ©lovelyf