my_past_tales

karma❤Believer

Grid View
List View
Reposts
  • my_past_tales 6w

    मंज़िलों की दौड़ के लिए काबिल ना हो सका ,
    उसने यूँ तोडा मुझे कभी था क़ाबिल दौड के
    और आज दौड़ में शामिल ना हो सका .

  • my_past_tales 6w

    वो शहर छोड़ने चली थी और यहां मेरी साँसे मुझे.

  • my_past_tales 6w

    उससे प्यार है तुम्हे उस धोखेबाज को
    एक बार धोखा तो दो
    मैं जीना भी शुरू कर दूंगा तुम्हारे लिए
    मुझे एक बार मौका तो दो.

  • my_past_tales 6w

    इश्क़ को मेरे वो चला गया यूँ तोड़ के म राहो सा
    ताकता रहा और वो चला गया मुसाफ़िरों सा छोड के .

  • my_past_tales 6w

    कैसे कर सकती है शक़ वो मेरी मोहब्बत पर
    मैने तो मोहब्बत भी तब की थी जब रिश्तों के
    मायने जिस्म से जादा हुआ करते थे .

  • my_past_tales 7w

    ये निशानी छोड़ जाता हूँ इन्हे संभाल के रखना
    दिल टूटा है मेरा अब तुम अपना संभाल के रखना .

  • my_past_tales 7w

    मैं अपने दिल की बात कह देता हूँ
    वो मज़ाक समझ लेती है
    मैं उसका दिल हूँ वो मेरी धड़कन है
    उसको छोड़कर पूरी कायनात समझ लेती है.

  • my_past_tales 7w

    ज़िंदगी दर्द से गुजरती है हर वक़्त मेरी
    क्योंकि दर्द अपनों ने दिया और साथ गैरो ने .

  • my_past_tales 7w

    तू याद करेगी मुझे ऐसी भी एक रात आएगी
    इश्क़ तुझे उससे होगा और बात मेरी याद आएगी .

  • my_past_tales 7w

    ज़िन्दगी की कठिन राहे मुझे आज भी सताती है ज़ख्म तो
    दे जाते है लोग अक्सर पर मरहम मेरी माँ ही मुझे लगती है ।