Grid View
List View
  • nr_nikky 1w

    हक

    मैंने वक़्त बदलते देखा है
    जिसपर कभी हक सिर्फ मेरा था
    उसे किसी और का होते देखा है
    मैंने वक़्त बदलते देखा हैं।
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 5w

    मोहब्बत ना मिले तो सब्र नहीं होती
    और मिल जाए तो कद्र नहीं होती
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 5w

    इंतजार

    बंद आंखों में तो तुमसे मुलाकात हो जाती हैं
    अब बस खुले आंखो से मिलने का इंतजार हैं।
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 6w

    पल

    तुम्हारे साथ बिताए वो भी क्या हसीन पल था
    हर लम्हों में मेरे एक एक दर्द का हल था
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 6w

    इत्तेफाक नहीं था हमारा मिलना
    कई मिन्नतें की है तुम्हें पाने के लिए
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 9w

    जो कभी बहाने ढूंढ़ कर बातें करता था
    आज वो बातें न करने की बहाने ढूंढ़ रहा है
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 11w

    चेहरे तो तुम्हे कई मुझसे अच्छे मिल जाएंगे
    हार तो तब तुम जाओगे जब बात दिल की आएगी
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 12w

    हर रोज हम उदास होते हैं और वक़्त गुजर जाता है
    एक दिन वक़्त उदास होगा और हम गुजर जायेंगे
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 12w

    अब ईन आँखों को रात मे नीन्द नही आती
    क्योकि आँसुओ ने आशिया ढुन्ढ लिया है अपना
    ©nr_nikky

  • nr_nikky 13w

    इसकदर मै इश्क में डूबी हूँ कि
    आपका नजरअन्दाज का अन्दाज भी मुझे अच्छा लगता हैं|
    ©nr_nikky