oye_pikachu

instagram.com/oye_pikachu_._hum_._tum_._

��.Just a tired soul with some active thinking.��

Grid View
List View
Reposts
  • oye_pikachu 4d

    दीदार ...

    आंखो से ही मुकमल हो वहीं इश्क़ था मेरा
    जिस्म तो उसका एक नजर भी देखा ना था.

    चेहरा देखने को तरस रहे है अब हम। उनकी आंखें देख तो जमाना हो गया है ..!! ❤️

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 4d

    शायर..

    बनना हैं तो हमारी तरह....
    बन कर दिखाओ कभी!!
    आँखों में आँसू....
    होंठो से हँसी छलकाओ कभी!!
    गिले - शिकवे सब छोड़कर....
    हमारी गली भी आओ कभी!!
    माना फ़िलहाल नहीं हैं....
    चर्चा हमारा शायरों में!!
    पर ख़याल हैं बड़े ही उम्दा....
    गौर तो फ़रमाओ कभी!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 4d

    जाम....!

    बहुत तलब थी ना तुम्हे
    जानने की मुझे

    चलो फिर ऐसा करो
    मेरे हिस्से में एक शाम देना

    हकीकत तुम्हारे सामने होगी
    बस मेरे हाथ में एक जाम दे देना ...!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 5d

    तुम्हारा...

    चंद लम्हों में ये दुनिया खूबसूरत लगने लगती है
    और बस तुम्हारे पास होते ही
    जिंदगी थमने लगती है ..!

    दुनिया भर का शोर थम जाता है
    कानो में सिर्फ इश्क़ के गाने बंजने लगते है

    और फिर खुद को तुम्हारे साथ देखने लगता हूं
    तुम्हारे नाम के साथ जुड़ा अपना नाम देखने लगता हूं

    सच कहूं तो थोड़ा पागल सा होने लगा गया है में ...!!!

    तुम्हारी मोहब्बत में खोने लगा हूं मै
    सिर्फ तुम्हारा होने लगा हूं मैं .!!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 5d

    यादें...!

    मेरे पास तेरी कई सारी
    यादें बची हुई है

    जब तुझे वक्त मिले
    तो ले जाना उन्हें
    अपने साथ अपनी
    दुनिया में ...!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 5d

    प्यार ..

    प्यार में तो बस प्यार होता है .
    इसमें ना तू और ना मै
    इसमें ना कोई छल और ना कपट

    ये तो कुदरत की वो बारिश है
    जिसमे हर कोई भीगना चाहता है

    तो बस इस प्यार को प्यार ही रहने दो
    क्योंकी प्यार में सिर्फ और सिर्फ प्यार ही होता है ..!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 1w

    साथ ..!

    घड़ी सी फितरत नहीं
    एक थमा हुआ इंसान चाहा है .!!

    मैने तुम्हारा वक्त नहीं
    तुम्हारा साथ चाहा है ...!!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 1w

    बंदिशे..

    मैं याद करता हूं उसको पर
    ज़िक्र नहीं कर पाता हूं..
    मैं देखना चाहता हूं उसको पर
    देख नहीं पाता हूं..
    मैं बात करना चाहता हू पर
    बात नहीं कर पाता हूं .!
    मैं मिलना चाहता हूं
    पर मिल नहीं पाता हूं ।
    मैं इन बंदिशों को तोड़ना
    चाहता हूं
    पर तोड़ नहीं पाता हूं ..!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 1w

    " गीता - कुरान "

    यही रंग भेद करते है
    यही जाती भेद करते है
    और कहते है गीता कुरान पड़ते है ..!

    मंदिर पर पत्थर मार रहे है
    मजीद में दंगे मचा रहे है
    और कहते है गीता कुरान पड़ते है ...!

    इतिहास बचाने के नाम पर
    इंसानियत मिटा रहे है
    और कहते है गीता कुरान पड़ते है...!

    पढ़ कर गीता और कुरान भी
    नहीं सीखा कैसा होना चहिए इंसान ...!!

    ©oye_pikachu

  • oye_pikachu 1w

    अल्फ़ाज़

    में चाहूं भी तो
    वो अल्फ़ाज़ ना लिख पाउ..

    जिसमे बया हो जाय कि.
    कितनी महोब्बात है
    तुमसे ..!!!!

    ©oye_pikachu