poertysoulpal

get lost in your own vibe https://www.instagram.com/payal_pariharr/?hl=en

Grid View
List View
  • poertysoulpal 5w

    This is the last post of the day, because I take a few days break from social media, see you all soon, with a new post after a few days, until then byy
    Miss uhh alot @dimpledadhich
    STAY SAFE, STAY HOME

    Read More

    तूफान

    बंद दरवाजों के पीछे
    चार दिवारों के अंदर
    मन की खिड़कीयो से
    अकेलेपन का तूफान
    अक्सर बढ़ जाता है ।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    तु बन जा गंगा घाट सी
    मै सफर सुहाना बन जाऊं तेरा
    जब बिछडे तु किसी राह में
    तो किनारा बन जाऊं तेरा
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    अफसोस

    अफसोस, जब तैयार होती थी
    तो कुछ तस्वीरें ले लेनी चाहिए थी
    वो जिंदगी के कुछ पल जी लीने चाहिए थे,

    अब तो वो आइना वो श्रृंगार
    सब अधुरे पडें है तुम्हारे बिना

    वो काजल वाली आखों में जब
    खुशियों की चमक दिखाई देती थी
    आँसुओ का समंदर दिखाई देता है ,

    अफसोस, जब तैयार होती थी
    तो कुछ तस्वीरें ले लेनी चाहिए थी
    वो जिंदगी के कुछ पल जी लीने चाहिए थे।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    इंतजार

    तु सूरज बन उस दिशा का,
    कुछ बातें मैं तुझसे बयां करूँ

    जब शाम तलक तु घर लौटे
    मैं पश्चिम बन तेरा इंतजार करूँ ।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    इश्क

    इश्क किया है तो तन्हाई से मत कर
    अगर तबाह हो चुका है तो जम कर ,इश्क कर ।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    नसीब

    लोग दिल्लगी करते हैं अपने खुद के गुनाहो से
    और कहते हैं, मैं परेशान हूँ अपने नसीब से...
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    दिखती थीं वो गुलाब सी नाजुक
    और मैं उसे काँटा समझकर छूने से डरता था ।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    Aashiqui with @dimpledadhich01

    Read More

    आशिकी

    हर दरवाज़े के बंद हो जाने पे
    शोर में आवाज गुम हो जाने पे
    हाथों में हाथ छूट जाने पे
    एक मुसकान बनकर आती है
    तेरी आशिकी
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 5w

    फैसला

    तुमने उसके खातिर कर लिया जो फासला
    अब बस इतना ही कहना चाहूँगा की
    रोज रोज ना रूला करदे मेरा फैसला ।
    ©poertysoulpal

  • poertysoulpal 6w

    मेरे कुछ शब्द ��

    Read More

    सपने

    खुली आँखों में सपनें देखतीं थी वो
    जिसे वो लोगों को सुनाए , तो लोग हँसते थे
    उसे पागल कहते थे ...
    हाँ, थी वो पागल पर अपने सपनों के लिए
    जो उसके लिए हकीकत से हजारों गुना सच्चे थे।
    ©poertysoulpal