• nannak71 22w

    इश्क़ की ज़बां को तूने किस क़दर आसाँ कर दिया,
    कह न सका जो उसे निगाहों से बयाँ कर दिया.
    #संतोष

    ©nannak71