• anxious_soul 28w

    फितरत!!

    तब तक ही किया गुनाह मैंने;
    जबतक भरोसा था,
    बख्श देना उसकी फितरत थी!
    ©anxious_soul