• atheevaaida 6w

    इस दिल के ग़ुबार को भड़कने दो
    है जिस्म में अभी जान, तो कहने दो
    हैं तो तुम्हारे भी दो कान
    पर चलो, रहने दो...


    ©atheevaaida