• sprinklet 9w

    इश्क़ वही जिसमें जुनून हो
    ख़्वाब वही जिसमें सुकून हो
    मंजिल वही जिसे पाने की तड़प हो
    मकसद वही जिसकी हर पल तलब हो

    रिश्ते वही जहां अपनापन हो
    अपनों के गम में शामिल होने की तड़पन हो
    दोस्ती वही जहां इख्तियार हो
    एक दूजे पर जान से भी ज़्यादा ऐतबार हो

    कामयाबी वही जिसे पाकर
    खुशियों का अहसास हो
    नाकामी में भी सफलता की आस हो
    और हर लम्हा आगे बढ़ते रहने की प्यास हो!

    ©sprinklet

    Read More

    इश्क़ वही जिसमें जुनून हो
    ख़्वाब वही जिसमें सुकून हो
    मंजिल वही जिसे पाने की तड़प हो
    मकसद वही जिसकी हर पल तलब हो

    रिश्ते वही जहां अपनापन हो
    अपनों के गम में शामिल होने की तड़पन हो
    दोस्ती वही जहां इख्तियार हो
    एक दूजे पर जान से भी ज़्यादा ऐतबार हो

    कामयाबी वही जिसे पाकर
    खुशियों का अहसास हो
    नाकामी में भी सफलता की आस हो
    और हर लम्हा आगे बढ़ते रहने की प्यास हो!

    ©sprinklet