• abdulramiz 5w

    अंजुमन में ये मेरी ख़ामोशी,
    ,,
    बुर्दबारी नहीं वहशत है

    मुर्शीद