• aanujbachhav 5w

    ग़ालिब तेरे बातों को हमेशा सुनता हु में,
    समज़नेमे अकसर देर हो जाती हैं...
    ©aanujbachhav