• rohitsrivastva 6w

    इश्क़

    शमा ले हमें खुद मे हम खाक हो जाये
    जलादे हमें इस कदर के हम राख हो जाये
    मुहब्बत अगर आग का दरिया है ती डूबा दे हमें हम उस पर हो जाये
    चल इसबार आजमा ले इसबार इसपार या उसपार हो जाये
    अब इकरारे मुहब्बत कर दिया है चाहे जिन्दगी बर्वाद हो जाये

    मेरी कलम
    ©rohitsrivastva