• mr1234 10w

    लफ़्ज़ों में

    खामोशिया कर देती बयान तो अलग बात है ,
    कुछ दर्द है , जो लफ़्ज़ों में उतारे नही जाते ...।
    ©mr1234