• amit_vashist_ 5w

    यह जो ख़ामोशी, न होकर भी है हमारे दरमियान
    बस यही मुझे तुम्हारे करीब आने से रोकती है

    ©amit_vashist_