• prahlad_singh_shekhawat 5w

    मैंने कई ज़िंदगियाँ सिगरेट सी देखी है
    पहले लबों तक और फिर जूतों तले
    ©prahlad_singh_shekhawat