• crystalsharma 5w

    Poetry#mumma daddy love# dresms#responsbility#guts to face it..

    Read More

    हक

    किसने हक दिया तुम्हे,,,
    जन्म देने वाली मां,
    और पालने वाले पिता,
    के सपनों को तोड तुम ,
    अपने अरमानों का महल बनाओ।

    जिन पे कर्ज होते है ना वो पहले ,
    कर्ज चुकता करते है।
    अपना महल नहीं बनाते।।।।
    ©crystalsharma