• amritpalsinghgogia 9w

    170 अपना जहां

    सितारों को ढूँढ लाये हम
    उनको देख मुस्कुराये हम
    अब कोई तन्हा न रहेगा
    चाहे जितने भी आयें ग़म
    हर चेहरे पर चमक होगी
    खुलकर मुस्कुरायेंगे हम
    हमारा अपना जहां होगा
    जहाँ अब रह पायेंगे हम

    अमृत पाल सिंह 'पाली'