• unspokenmornings 5w

    एक मर्तबा काश ये इत्तेफ़ाक़ हो जाए ,
    हर गली सूनी हो शहर की ,
    और मेरे घर बरसात हो जाए ..

    बारिशो में भीगती होगी वो आज भी ..

    ©unspokenmornings