• vipin_bahar 30w

    वो तेरी नज़रों कि जादूगरी याद आती हैं,
    क्या खूब तेरी झुल्फ़े बिखरी याद आती है,
    बारिश में भी तूने क्या खूब सहारा दिया,
    वो तेरे दुप्पट्टे कि छतरी याद आती है,
    विपिन"बहार"
    ©


    ©vipin_bahar