• succhiii 5w

    हास्य रस 😂 पेश-ए- खिदमद है ज़रा ग़ौर फ़रमाए
    🙏🏻🙏🏻😀 पसंद आने पर , अपनी मुस्कुराहट से नवाज़ियेगा 😊🙏🏻💕

    @mirakeeworld

    Read More

    ये क़ाफ़िया ये रदीफ ये बहर😥😥😰
    चुराती मेरा चैन अब हर पहर 😂


    आँखो के नीचे काले घेरे अब रहने लग गए हैं 🐼
    सीखने हम क़ाफ़िया -रदीफ जगने लग गए हैं ☕️

    कोई तो हो जो मदद मुसल्सल करता यारों 😥
    इस अलम में हम यूँही सूखने से लग गए हैं

    ये बहर ये मीटर जाने क्या है, ये सिस्टर ? 😁
    सोच-सोच के सिर अब दुखने लग गए हैं 🙉

    कोई राहत-ए-सूरत नज़र अब नहीं आती 👀
    निराशा के जंगल में हम भटकने लग गए हैं ☹️

    जाने मसला है क्या ग़ज़ल-ए-बहर का
    ऊपर सिर से ये सारे गुज़रने लग गए हैं 🙄

    रास आ गई है जिन लोगों को ये कला 😍😂😂
    कुछ ज़्यादा ही अब, वो इतराने लग गए हैं 🙏🏻🙏🏻

    आँखो के नीचे काले घेरे अब रहने लग गए हैं 👁
    तेरे सिर भी”सूचि” अब ये ज़हर चढ़ने लग गए हैं 🥺😂
    दर्द-ए-दास्ताँ @succhiii 😂😂🤣🤣🙏🏻