• abdulramiz 6w

    इक शख़्स कर रहा है अभी तक वफ़ा का ज़िक्र
    काश उस ज़बाँ-दराज़ का मुँह नोच ले कोई