• arnav_aarush 24w

    #शायद #वो #छवी #कहानी @chhavisingh

    Read More

    शायद

    शायद उसकी चहक में हर सवाल का जवाब है,
    शायद उसकी चुप्पी का कुछ अलग ही हिसाब है,
    डरता या घबराता नहीं हूँ सन्नाटे या शोर से,
    पर शायद वो खुद में एक अलग ही किताब है।

    शायद मैने कभी सच को नही जाना,
    या शायद गलत को सही जाना,
    बातों पर गौर नहीं करता,
    पर कभी-कभी मुश्किल है कुछ बातों को अपनाना।

    शायद खुद के मतलब से चलने की आदत हो गई थी,
    शायद उन दिनों चुप रहने की आदत गई थी,
    किसी की आदतों से क्या लेना था मेरा,
    शायद बोलने से ज्यादा समझने की आदत हो गई थी।

    शायद दूसरों की उम्मीदों से दूर हुआ करता था मैं,
    शायद कभी आसमान से भी अपने जवाब की उम्मीद किया करता था मैं,
    उसके आने से इतना कुछ तो नही बदला पर,
    शायद पूरा वैसा नहीं हूँ जैसा हुआ करता था मैं।

    शायद मेरी बदलती दुनिया का नया ख्वाब है वो,
    या शायद बदलते वक्त की अनोखी बात,
    शायद ये मेरी ही सोच है या कुछ और,
    शायद ये दिन भी देखते हैं उसे शायद उसी की बातें करती है ये रात।

    शायद उसे अब भी समझ नहीं पाया हूँ मैं,
    या शायद अब समझना ज़रूरी नहीं समझता,
    कहानी नयी छवी के साथ अभी बस शुरू हुई है मेरी,
    पर शायद वो है तो मैं अपनी कहानी को अधूरी नहीं समझता.....!!!!!
    ©arnav_aarush