• ni_preetam 5w

    वो सारे खाब हमने तोड़ दिए
    जो तेरी बाहों में आते थें

    ©ni_preetam