• bhupendrasingh 4w

    पत्ते

    मेरे क़त्ल को समझते है वो तरक्की
    मरेंगे वो भी मेरे बिना जल्द देखना
    ©bhupendrasingh