• iamanuragmishra 6w

    “सारे अरमान खर्च हो गए , ज़िन्दगी के किराये में ,
    वक़्त - ऐ - रुखसत पता चला , हम रहते थे सराय में...”
    ©rang
    Anurag mishra