• _akshaj_ 4w

    अपने सारे अल्फ़ाज़ तुझ पे क़ुर्बां कर चुका हूँ,
    तेरी दास्ताँ तुझे छोढ़के, सारी दुनिया को बयाँ कर चुका हूँ

    ©_akshaj_