• kavi_poetry_ 9w

    मेरी मोहब्बत में तुम नही तुम्हारा प्रेम शामिल है
    तुमसे नही,तुम्हारे प्रेम से निकाह किया है मैंने