• motwanimahek 5w

    कभी कहीं खुद अकेले ना पड़ जाऊं,
    इस डर से मैंने,

    सबको छोडा़ है।




    ©motwanimahek