• prajjval_nira_mishra 22w

    स्वम् विवेकानंद बनो तुम प्रश्न उठाना बन्द करो।
    दूजे की गलती का परचम देश मे गाना बन्द करो।
    भगवा गर धारा है तुमने भगवे का अस्तित्व धरो।
    भगवा पहन के राजनीति के तीर चलाना बन्द करो
    ©prajjval_nira_mishra