• bikhrekhayaal 22w

    एक इंतज़ार मुद्दत से गिरवी पड़ा है,
    एक ख़्याल शिद्दत से मुंतज़िर खड़ा है...
    बेतआल्लुक सी किसी आदत से हो तुम,
    अफ़सोस से पहले तुमसे एहसास जुड़ा है...

    ©
    #रshmi | Bikhrekhayaal

    therashmimishra.com