• pallavis 46w

    गुस्ताखी

    इश्क की गुस्ताखी ने ज़िल्लत की राहों में गुमनाम कर दिया
    दुनिया कि लिए फ़रेबी तो थे हमेशा से
    उस बेग़ैरत ने तो अब हमें अपनी ही नज़रों में बदनाम कर दिया