• lalit_kumar_jajaora 23w

    ❤️

    शायद अब वो प्यार रहा न वो चाहत
    फिर भी एक दूसरे से बेरुखी सी बातें कर के खुद ही हो रहे है आहत
    "दोनो सोचते है एक तरफा रह गया है प्यार .."
    सोच यही तो मिलती है हमारी ।
    हमसे तो छीन लिया कुछ पुछने बोलने का हक ..
    अब तो तु ही बोल दे
    हक जता के थोड़ा यार मुझे बोल दे |
    ©lalit_kumar_jajaora