• vanshitporwal 5w

    ख़्वाब कुछ सुनहरा सा देखा था मैंने
    हाँ कल जाम छलकती आँखो को देखा था मैंने ।

    ©vanshitporwal