• ashutosh_bharti 31w

    ज़िन्दगी इतनी भी छोटी नहीं है,
    बस समझने का हुनर होना चाहिए,

    कुछ लम्हे मे खुशी होती है,
    तो कुछ को बनानी परती है,

    कोई उसे यूंही गवां देता है,
    तो कोई खुल कर जीता है,

    ज़िन्दगी के हर मोर पर सबका साथ मिलता है,
    लेकिन उस एक का साथ होना भी बहुत माने रखता है...

    ~आशुतोष भारती