• pagal2 5w

    कैसी अनदेखी तलाश हैं इन

    जीवन ki राहों में

    ज़िन्दगी ढूढ़ते ढूढ़ते खो जाती हैं

    मौत ki बाहों में