• margdarshan 23w

    सिलसिला-ए-इश्क़

    मोहब्बत तो कायम रहती है पर इंसान बिखर जाता है,
    हुज़ूर ये सिलसिला-ए-इश्क़ भी बेहद अजीब है
    ©margdarshan