• andaaz_e_shaayaraana 23w

    ए दिल ना कर तू चाहतें...
    खुशियाँ नहीं सिर्फ़ दर्द - ओ - ग़म हैं इस राह में...
    दिल आज भी तेरे ख़याल में डूबा हुआ है...
    तुम भी खोई - खोई सी हो, ना जाने किसके ख़यालों में...
    इश्क़ मुक़म्मल कब रहा हम दोनों में...
    बस ये दूरियाँ ही दरमियाँ रहीं फासलों में...

    # दिल से - वीर

    - अंदाज - ए - शायराना