• antas_j 6w

    इतनी सी ही गलती मेरी इश्क़ जो हम कर बैठे,
    तुम भी तो हकदार सज़ा के दुनिया से लड़ बैठे,

    बातें तुम्हारी रातों में अक्सर मुझको जगाये है रहती ,
    तुमको पता है क्या यादें तुम्हारी मुझको सताए है रहती,

    अब दिल हमसे पूछता है तुमपर क्यों मर बैठे ,
    तुम भी तो हक़दार सज़ा के दुनिया से लड़ बैठे,
    ©antas_jaunpuri