• kunalrajput 22w

    शिकायतें ना रख तू दिल में,
    जो पत्थर है वो कहाँ सुन पायेंगे,


    तू हवा की तरह बेफिक्र बहता चल,
    जो खुशबूं होंगे वो तुझमें सिमटते जाएंगे

    ®Kunal Rajpit