• abdulramiz 5w

    सुबह की हवा में दर्द कितना था..
    ,,
    ,,
    रेल की सिटी बजी तो दिल लहू से भर गया..!!!