• geetabhardwaj 6w

    चल चलें किसी ऐसी जगह जहाँ कोई न तेरा हो न मेरा हो
    इश्क़ की रात हो और बस मोहब्बत का सवेरा हो
    ©geetabhardwaj