• lethological_thought 9w

    लेख:

    वक़्त बदलते ही जब सब ठीक हो जाएगा ना तो समय को पीछे लेजाकर मिलकर लिखेंगे कहानियां, शुरुआत से | कलम तुम ले आना और पन्ने मेरे होंगे | लेख तुम्हारा और शब्द मैं खोज लूंगी, हाँ पर कहानी एक ही होगी |

    ©lethological_thoughts