• dharmendrs117 5w

    लोगों की ज़िंदगी चलती होगी क़िस्मत पर।
    हमारे हाथों की लकीरें भी मिट चूकी है।
    बड़ी महँगा सौदा किया होगा इस दर्द ने
    तभी तो मेरी क़िस्मत भी बिक चुकी है।
    ©dharmendrs117