• anirva_poetries1 6w



    सोच न हुई, शराब हो गई
    जितनी पुरानी और सडी़ है
    उतनी अच्छी।।

    ©anirva_poetries