• nksoni 22w

    दिन के 8 पहर मे एक पहर तेरा होता है
    मंजिल के रास्ते मे एक घर तेरा होता है
    बैठा तो लिया था तुझको अपनी निगाहो मे
    आसु भी निकल गए तुझ सा मोती देख कर

    ©nksoni