• abdulramiz 22w

    रंग उखड़ जाए तो जाहिर हो पलस्तर की नमी,
    ,,
    ,,
    क़हक़हा ख़ोद के देखो तो तुम्हें आह मिले