• indraparmar 23w

    चर्चे तेरे हुस्न के यहाँ कुछ इस क़दर से होने लगे है,
    मानते थे जो खुद को हुस्न का खुदा क़भी,
    वो भी अब तुमसे जलने लगे है. !
    ©indraparmar