• sarimyusuf 5w

    अगर तुम नए शहर में पुराने हीं रहते,
    तो हम दीवाने थे दीवाने हीं रहते,
    किताबों में रखे फूलों की महक ना बदलतीं,
    अगर दिल के मौसम जो सुहाने थे सुहाने ही रहते।


    ©sarimyusuf