• payal_anant 24w

    सीने पर मेरे जो पत्थर है
    उसे बोझ न रहने देना
    बस एक छोटी सी चीज मांगी है तुमसे
    निराश न होने देना
    ये जो उफान सा है दिल में मेरे
    उसे सुकून भरी खामोशी में बदलना
    ये जो रोशन सा विश्वास है मेरा तुम पर उसे
    अंधेर ना करना
    तुमसे तुम्हारी मंजिल नहीं मांग रही मैं
    तुम बस अपनी मंजिल का पता बदल देना..।

    ☘पायल अनंत
    ©payal_anant