• shayari_mahira 33w

    ""तेरे होठों पर आई हसी का जो सूरूर हैं...।
    वहीं मेरी आँखों का चमकता हुआ नूर हैं...।।""
    shayari_mahira